दिल्ली की रहने वाली सुहानी ने बनाया ग्रीन ट्रेक्टर, पीएम भी कर चुके है सम्मानित

दिल्ली की एक स्कूली छात्रा, सुहानी चौहान, ने छोटे किसानों की जरूरतों को समझते हुए एक ग्रीन वीइकल तैयार किया है। इस वाहन का नाम SO-APT है, और यह बीज बो सकता है, सिंचाई कर सकता है, और अन्य कृषि से जुड़े काम कर सकता है। सुहानी को 3 साल की मेहनत के बाद इस वाहन को तैयार किया गया।

इस गाड़ी को सौर ऊर्जा से चलाया जाता है, इसलिए यह कार्बन एमिशन फ्री है। इसकी चलाने की लागत भी कम होती है। दिल्ली के एमिटी इंटरनैशनल स्कूल की क्लास 11 की सुहानी को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2024 से सम्मानित किया गया है।

सुहानी कहती हैं कि यह पुरस्कार उनके लिए बहुत खास है। इसे फील्ड में टेस्ट किया गया है और पेटेंट कराया गया है। वह इसे बाजार में लाने के लिए कंपनियों से भी बात कर रही है। उन्हें चाहिए कि यह वाहन कम से कम कीमत में छोटे किसानों तक पहुंचे।

सुहानी की यह पहल मानेसर से मिली प्रेरणा से उत्पन्न हुई थी। उन्होंने उनकी मदद के लिए एक ऐसा एग्रीकल्चरल वीइकल तैयार करने का सोचा, जो किसानों के काम को आसान और सस्ता बना सके। उनका यह वाहन एमिटी यूनिवर्सिटी के इनक्यूबेशन सेंटर में तैयार किया गया था। वह इसी फील्ड में आगे बढ़कर अपने स्टार्टअप की शुरुआत करना चाहती है।