कड़ी मेहनत के साथ सही स्‍ट्रैटिजी का बहुत ज्‍यादा रोल होता है, गजब की है आईएएस की प्रेरणादायक कहानी

आईएएस अधिकारी दिव्या मित्तल के काम के तरीके ने यूपी जिले में महिलाओं को बहुत ही प्रेरित किया। उनका एक वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें बहुत सारी महिलाएं उन पर फूल बरसाते दिखाई दी। वह मिर्जापुर की जिलाधिकारी रह चुकी थीं, और उसके बाद उन्हें बस्ती का डीएम नियुक्त किया गया था। मिर्जापुर की महिलाएं उनकी विदाई पर फूलों से लाद दिया था।

दिव्या ने बहुत ही शानदार ट्रैक रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने आईआईटी दिल्ली से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की, और फिर IIM बेंगलुरु से एमबीए की। बाद में उन्होंने लंदन में काम किया, लेकिन फिर अपने पति के साथ भारत वापस आ गईं।

सोशल मीडिया पर, दिव्या ने अपनी सफलता की राह को शेयर किया। उन्होंने बताया कि तैयारी के दौरान फोकस बनाए रखना बहुत जटिल होता है, लेकिन उन्होंने अपनी रणनीतियों को अपनाकर इसे संभाल लिया। उन्होंने अपनी खुद की कुछ तकनीकों को शेयर किया, जैसे कि सुबह उठकर फोन को दूर रखना, जिससे उन्हें उठने के लिए दूर जाना पड़ता।

दिव्या ने 2012 में यूपीएससी की परीक्षा पास की, और आईपीएस अधिकारी बन गईं। वह गुजरात कैडर में नियुक्त हुई थी, लेकिन वह संतुष्ट नहीं थीं। उन्होंने 2013 में फिर से यूपीएससी की परीक्षा दी, और इस बार उनकी मेहनत रंग लाई। वह आईएएस अधिकारी बन गईं।